Sunday, June 16, 2024
Homeदेशअमित शाह ने ओवैसी से बुलेट प्रूफ गाड़ी और जेड श्रेणी की...
spot_img

अमित शाह ने ओवैसी से बुलेट प्रूफ गाड़ी और जेड श्रेणी की सुरक्षा स्वीकार करने का किया आग्रह

नयी दिल्ली, 07 फरवरी : केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने सोमवार को ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के प्रमुख और हैदराबाद से लोकसभा के सदस्य असदुद्दीन ओवैसी से अनुरोध किया कि केंद्र सरकार द्वारा उन्हें जो सुरक्षा मुहैया करायी गयी है, उसे वह तत्काल स्वीकार कर लें।
राज्यसभा में एक बयान में शाह ने उत्तर प्रदेश में ओवैसी के काफिले पर हुए हमले की विस्तृत जानकारी देते हुए कहा कि उनके खतरे का पुन:मुल्यांकन करने के बाद और खतरे के आकलन के आधार पर ओवैसी को बुलेट प्रूफ कार के साथ ही अखिल भारतीय स्तर पर केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल की जेड श्रेणी की सुरक्षा प्रदान की गई है।
उन्होंने कहा, ‘‘हमारे पास मौखिक सूचना ओवैसी के द्वारा भेजी गई कि उन्होंने अभी भी सुरक्षा लेने से इनकार किया है। मैं सदन के माध्यम से ओवेसी से विनम्र विनती करना चाहूंगा कि वह तत्काल सुरक्षा ले लें और हम सबकी चिंता का समाधान करें।’’
शाह ने कहा कि पहले भी कई मौकों पर केंद्रीय सुरक्षा एजेंसियों के खतरे के आकलन के आधार पर ओवैसी को सुरक्षा प्रदान करने के लिए केंद्र सरकार ने निर्देश जारी किए हैं लेकिन ओवैसी द्वारा सुरक्षा लेने की अनिच्छा के कारण दिल्ली पुलिस और तेलंगाना पुलिस द्वारा उन्हें सुरक्षा देने का प्रयास सफल नहीं हो पाया।
उन्होंने कहा कि तीन फरवरी को शाम लगभग 5:20 बजे ओवैसी मेरठ के किठौर से जनसंपर्क कार्यक्रम करने के बाद दिल्ली लौट रहे थे और जब उनका काफिला छिजारसी टोल प्लाजा, पिलखुवा से गुजर रहा था तो दो अज्ञात व्यक्तियों के द्वारा उनके काफिले पर गोलियां चलाई गई।
उन्होंने कहा कि इस घटना में ओवैसी सुरक्षित बच गए लेकिन उनके वाहन के निचले हिस्से में तीन गोलियों के निशान देखे गए और इसे तीन गवाहों द्वारा देखा भी गया।
उन्होंने कहा कि मामले मेंविभिन्न धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है और इसकी विवेचना की जा रही है। शाह ने इस अवसर पर भी कहा कि ओवैसी का पूर्व से कोई कार्यक्रम तय नहीं था और ना ही आवागमन के बारे में उनकी ओर से कोई पूर्व सूचना जिला नियंत्रण कक्ष को दी गई थी।


उन्होंने कहा, ‘‘ओवैसी सुरक्षित दिल्ली पहुंच गए। जनपद के वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा घटनास्थल का निरीक्षण किया गया। विवेचना के क्रम में स्थानीय पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए दो अभियुक्तों को गिरफ्तार किया और उनसे दो अनधिकृत पिस्तौल और एक अल्टो कार बरामद की गई।’’

शाह ने कहा कि घटनास्थल और वाहन का फॉरेंसिक दल द्वारा ‘‘सूक्ष्मता’’ से जांच की जा रही है और साक्ष्य एकत्रित किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि दोनों अभियुक्तों से उत्तर प्रदेश पुलिस द्वारा पूछताछ की जा रही है और जनपद में कानून व्यवस्था की स्थिति नियंत्रण में और सामान्य है तथा वहां कड़ी सर्तकता भी बरती जा रही है।

उन्होंने कहा कि घटनाक्रम के संदर्भ में केंद्र सरकार को राज्य सरकार की ओर से एक रिपोर्ट भी प्राप्त हुई है। उल्लेखनीय है कि बृहस्पतिवार शाम ओवैसी उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव के मद्देनजर प्रचार करने के बाद जब दिल्ली लौट रहे थे तभी हापुड़ के छिजारसी टोल के पास उनके काफिले पर हमला हो गया था।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments

error: Content is protected !!