Thursday, June 20, 2024
Homeदेशगणतंत्र दिवस पर प्रधानमंत्री मोदी नजर आये उन 2 राज्यों की वेशभूषा...
spot_img

गणतंत्र दिवस पर प्रधानमंत्री मोदी नजर आये उन 2 राज्यों की वेशभूषा में, जिनमे हैं फरवरी और मार्च में विधानसभा चुनाव, आइये जानते हैं कौन से हैं वह राज्य ?

26 जनवरी, अभिषेक सिंह : इस साल भी प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने गणतंत्र दिवस के उपलक्ष पर भिन्न-भिन्न राज्यों और संस्कृतियों से टोपी पहनने की परंपरा को जारी रखा। इस साल, 73वें गणतंत्र दिवस पर, पीएम मोदी को उत्तराखंड से टोपी पहने हुए ‘ब्रह्मकमल’ के साथ देखा गया, जो उत्तराखंड का राज्य फूल है। जब भी वह केदारनाथ में ‘पूजा’ करते हैं तो वह अपनी पूजा में इसी फूल का उपयोग करते हैं।

उत्तराखंड की टोपी और ‘ब्रह्मकमल’ फूल के अलावा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मणिपुर की स्टोल पहने नजर आए। प्रधानमंत्री ऐसे समय में इस वेश भूषा में आए हैं जब दोनों राज्यों में फरवरी और मार्च में होने वाले विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। 

प्रधानमंत्री को मणिपुर का स्टोल पहने भी देखा गया। अपने संबोधन के दौरान उन्हें अक्सर ‘गमछा’ पहने देखा जाता है, जो पारंपरिक मणिपुरी हाथ से बुने हुए स्टोल से प्रेरित होता है, जिसे ‘लीरम फी’ कहा जाता है। सफेद, काले और लाल रंग का बुना हुआ कपड़ा मणिपुर में मेतेई जनजाति का है।

प्रधान मंत्री के द्वारा उत्तराखंड की वेशभूषा में प्रमुख रूप से इस्तेमाल की जाने वाली टोपी पहनने पर, उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने “उत्तराखंड के 1.25 करोड़ लोगों की ओर से” मोदी के प्रति “हार्दिक आभार” व्यक्त किया। धामी ने ट्वीट किया, “आज 73वें गणतंत्र दिवस के अवसर पर माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने ब्रह्म कमल से सजी देवभूमि उत्तराखंड की टोपी पहनकर हमारे राज्य की संस्कृति और परंपरा को गौरवान्वित किया है।”

पिछले साल, पीएम मोदी ने एक रंगीन ‘हलारी पाघ’ (शाही पगड़ी) पहनी थी जो उन्हें इस आयोजन के लिए जामनगर रॉयल फैमिली द्वारा उपहार में दी गई थी। ‘पगड़ी’ को ग्रे जैकेट और क्रीम रंग की शॉल से पूरित किया गया था।

2020 में गणतंत्र दिवस समारोह के दौरान, पीएम ने पूंछ के साथ भगवा बंधेज टोपी पहनी थी। 2019 में उन्होंने पीले-नारंगी रंग की पगड़ी पहनी थी जिसकी पूंछ लाल थी।

2018 में, दायर एक आरटीआई जिसमे प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी के कपड़ों की कीमत के बारे में जानकारी ली गई थी से पता चला था कि नरेंद्र मोदी अपने कपड़ों पर खुद खर्च करते हैं।

आरटीआई के जवाब में, पीएमओ ने कहा कि सवाल व्यक्तिगत है और यह जानकारी पीएमओ के आधिकारिक रिकॉर्ड का हिस्सा नहीं है। पीएमओ कार्यालय ने यह भी उल्लेख किया कि यह ध्यान दिया जा सकता है कि प्रधान मंत्री की व्यक्तिगत पोशाक पर खर्च सरकारी खाते में नहीं किया जाता है।

प्रधानमंत्री ने बुधवार को राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पर श्रद्धांजलि अर्पित की, मोदी के साथ रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और तीनों सेना प्रमुख भी शामिल हुए व श्रद्धांजलि दी। गणतंत्र दिवस समारोह की शुरुआत युद्ध स्मारक पर श्रद्धांजलि समारोह के साथ हुई। भारत बुधवार को अपना 73वां गणतंत्र दिवस मना रहा है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments

error: Content is protected !!