Saturday, June 15, 2024
Homeदेशपंजाब सरकार पहुंचाएगी घर-घर राशन, सीएम भगवंत मान ने किया डोरस्टेप डिलीवरी...
spot_img

पंजाब सरकार पहुंचाएगी घर-घर राशन, सीएम भगवंत मान ने किया डोरस्टेप डिलीवरी सिस्टम का ऐलान

चंडीगढ़, 28 मार्च : पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने सोमवार को ‘घर-घर राशन वितरण योजना’ शुरू करने की घोषणा करते हुए कहा कि गरीबों को अब कतारों में खड़े होने की जरूरत नहीं होगी क्योंकि अच्छी गुणवत्ता वाला राशन उनके घर तक पहुंचाया जाएगा। मान ने एक वीडियो संदेश में कहा, हालांकि यह योजना पात्र लाभार्थियों के लिए वैकल्पिक होगी।

आज़ादी के 75 साल बाद भी हमारे लोग कतारों में खड़े हैं। आज हम ये सिस्टम बदलने जा रहे हैं।

अब हमारी बुजुर्ग माताओं को राशन के लिए घंटो लाइन में नहीं लगना पड़ेगा। किसी को अपनी दिहाड़ी नहीं छोड़नी पड़ेगी।

आज मैंने फैसला लिया है कि आपकी सरकार आपके घर राशन पहुंचाएगी। pic.twitter.com/GxgCcCDfPw

— Bhagwant Mann (@BhagwantMann) March 28, 2022

मुख्यमंत्री ने कहा कि इस योजना का विवरण जल्द ही उपलब्ध कराया जाएगा।


उन्होंने कहा, ‘‘आम आदमी पार्टी (आप) सरकार ने घर-घर राशन वितरण योजना को शुरू करने का फैसला किया है। योजना के तहत, लाभार्थियों के घर पर अच्छी गुणवत्ता वाली राशन सामग्री पहुंचाई जाएगी और अब किसी को भी इसके लिए कतार में खड़े होने या अपना काम छोड़ने की आवश्यकता नहीं होगी।’’
मान ने कहा, ‘‘हमारे अधिकारी लाभार्थियों को फोन करेंगे और उनकी सुविधा और उपलब्धता के अनुसार उनके घरों पर राशन पहुंचाया जाएगा।’’ उन्होंने कहा कि यह योजना वैकल्पिक है।
पंजाब के मुख्यमंत्री ने कहा कि अगर राशन डिपो आपके घर के बहुत करीब है, तो कोई भी वहां से राशन ला सकता है। मान ने कहा कि अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व वाली सरकार ने दिल्ली में भी इस योजना को शुरू किया था, लेकिन दुर्भाग्य से इसे रोक दिया गया। ‘‘लेकिन, पंजाब में हम इस योजना को लागू करने जा रहे हैं और हम इसे सफलतापूर्वक चलाएंगे।’’
मान ने कहा कि यह दुखद है कि देश की आजादी के 75 साल बाद भी गरीब और आम लोगों को राशन पाने के लिए राशन डिपो के बाहर लंबी कतारों में खड़ा होना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि डिजिटलीकरण के इस युग में खाद्य पदार्थों सहित दैनिक जरूरतों की विभिन्न वस्तुओं को एक फोन कॉल पर लोगों के दरवाजे पर पहुंचाया जाता है।
उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन कई मौकों पर गरीब लोगों, जिनमें अधिकतर दिहाड़ी मजदूर होते हैं, को (उचित मूल्य की दुकानों से) राशन लेने के लिए अपने दिन के काम को छोड़ना पड़ता है। जो व्यक्ति अपनी दैनिक कमाई से अपने खाने-पीने की जरूरत को पूरा करता हो, अगर उसे राशन लाने के लिए अपनी दिहाड़ी छोड़नी पड़े तो यह कितना दुखद है।’’
मान ने कहा, ‘‘मैं कई बुजुर्ग महिलाओं को जानता हूं जिन्हें डिपो से अपना राशन लेने के लिए दो किलोमीटर पैदल चलना पड़ता है। राशन की गुणवत्ता कभी-कभी उतनी अच्छी नहीं होती है।’’ उन्होंने कहा कि अब लोगों को इन सब समस्याओं से निजात मिल जाएगी।
उन्होंने कहा, ‘‘सरकारें लोगों के लिए होती हैं, वे लोगों द्वारा चुनी जाती हैं। सरकारें लोगों की सुविधा के लिए होनी चाहिए न कि उन्हें परेशान करने या उनके लिए समस्याएं पैदा करने के लिए।’’ मान ने कहा, ‘‘आपको (लाभार्थियों को) अच्छी गुणवत्ता वाला वही राशन मिलेगा, जो लोग आम तौर पर खाते हैं, अमीर लोग जो खाते हैं, आपको वही आटा, दाल मिलेगी…।’’
इससे पहले 19 मार्च को मान ने अपनी पहली कैबिनेट बैठक के पहले निर्णय में पुलिस विभाग में 10,000 पद सहित राज्य सरकार के विभिन्न विभागों में 25,000 नौकरियों की घोषणा की।
पिछले महीने के पंजाब विधानसभा चुनावों में आप ने कांग्रेस, शिरोमणि अकाली दल-बहुजन समाज पार्टी गठबंधन और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा)-पंजाब लोक कांग्रेस-शिअद (संयुक्त) गठबंधन को पछाड़ते हुए सत्ता हासिल की। कांग्रेस को 117 सदस्यीय विधानसभा में 18 सीटें मिलीं, जबकि आप को 92 सीटें मिलीं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments

error: Content is protected !!