Thursday, June 20, 2024
Homeराज्यUttar Pradeshभाजपा नेत्री का अश्लील वीडियो बनाकर वायरल करने के आरोपी पार्षद ...
spot_img

भाजपा नेत्री का अश्लील वीडियो बनाकर वायरल करने के आरोपी पार्षद सहित 2 नेताओं को भाजपा ने पार्टी से किया निष्कासित

मेरठ जिले में भाजपा नेत्री की अश्लील वीडियो बनाकर उसे सोशल मीडिया पर वायरल करने वाले 2 पार्टी नेताओं को देर से ही सही लेकिन अनुशासनहीनता के मामले में निलंबित कर दिया गया है। जानकारी के अनुसार, सोमदत्त विहार के रहने वाले रवींद्र नागर ने कथित तौर पर नेत्री का एडिटिंग के जरिए अश्लील वीडियो बनाया। फिर उसे अपने करीबी पार्षद रवींद्र सिंह को दे दिया। सिंह ने फर्जी आईडी से वीडियो को सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। जिसके बाद मामले में दोनों के खिलाफ संगीन धाराओं में केस दर्ज कराया गया। वहीं बीजेपी ने दोनों नेताओं को अनुशासनहीनता के आरोप में पार्टी से निकाल दिया।

भाजपा पश्चिमी यूपी के क्षेत्रीय अध्यक्ष सतेंद्र सिसोदिया के निर्देश के बाद भाजपा महानगर अध्यक्ष ने तीन लोगों को पार्टी के कार्यों और सभी जिम्मेदारियों, पदों से मुक्त करने का आदेश जारी किया है। इसमें भाजपा नेत्री का अश्लील वीडियो बनाकर प्रचारित करने के मामले में शामिल रहे पार्षद रविंद्र सिंह, रविंद्र नागर के अलावा चिकित्सा प्रकोष्ठ सहसंयोजक डॉक्टर राज कुमार बजाज शामिल हैं। पार्टी नगर अध्यक्ष ने कहा कि पार्टी नेताओं का निष्कासन खेद का विषय है लेकिन पार्टी शिकायतों की अनदेखी नहीं कर सकती और इस तरह की कार्रवाई आगे भी जारी रख सकती है। 

सोशल मीडिया पर फर्जी अश्लील वीडियो वायरल का मामला

बता दें कि बीजेपी नेत्री ने भावनपुर थाने में आरोपी भाजपा नेताओं के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था। इस घटना में भाजपा नेत्री की इंटरनेट मीडिया पर अश्लील वीडियो प्रसारित की गई थी। भाजपा नेत्री का आरोप है कि वीडियो कंप्यूटर पर बनाकर प्रसारित की गई है। भाजपा नेत्री की तरफ से भावनपुर थाने में दो लोगों के खिलाफ अज्ञात में मुकदमा दर्ज कराया था। पुलिस की विवेचना में रविंदर नागर और रविंद्र पार्षद के नाम मुकदमे में शामिल किए गए थे। आरोपी पार्षद रविंद्र और रविंद्र नागर को कोर्ट से अंतरिम जमानत मिल गई थी। घटना के बाद से ही आरोपी भाजपा नेताओं के खिलाफ कार्रवाई की मांग उठ रही थी। सवाल उठ रहे थे कि आखिर क्या वजह है कि पार्टी अपनी ही पार्टी की महिला नेत्री के साथ हुई घटना के आरोपी पार्टी नेताओं के खिलाफ कार्रवाई नहीं कर पा रही है।

मामले में जानकारी देते हुए बुधवार को भाजपा के महानगर अध्यक्ष मुकेश सिंघल ने बताया कि पार्टी नेतृत्व के आदेश पर जागृति विहार मंडल के नेता रवींद्र नागर, वार्ड-18 के पार्षद रवींद्र सिंह और भाजपा चिकित्सा प्रकोष्ठ के सह संयोजक राजकुमार बजाज को पार्टी से निकाल दिया गया है। राजकुमार बजाज को गलत बयानबाजी के लिए पार्टी से निकाला गया है। वहीं रवींद्र सिंह और रवींद्र नागर पर आरोप है कि पार्टी की ही महिला नेता को बदनाम करने के लिए उन्होंने पहले तो एडिटिंग के जरिए उनका अश्लील वीडियो बनाया। फिर आपस में शेयर किया और बाद में फर्जी आईडी के जरिए उसे सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। दोनों के खिलाफ केस दर्ज कराया गया है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments

error: Content is protected !!