Tuesday, June 25, 2024
Homeताज़ातरीनHAL ने ट्रेनर एयरक्राफ्ट HLFT-42 की टेल से हटाया भगवान हनुमान का...
spot_img

HAL ने ट्रेनर एयरक्राफ्ट HLFT-42 की टेल से हटाया भगवान हनुमान का स्टिकर, जानें क्या है कारण?

हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (HAL) ने बेंगलुरु में एयरो इंडिया 2023 एयर शो में प्रदर्शित एचएलएफटी (HLFT)-42 ट्रेनर विमान के पिछले हिस्से पर लगी भगवान हनुमान की तस्वीर मंगलवार को हटा दि है। इस पर HAL के चेयरमैन सीबी अनंतकृष्ण स्पष्टीकरण देते हुए कहा कि “स्टिकर किसी इरादे से नहीं लगाया गया था। न ही किसी इरादे से हटाया गया है।”

बेंगलुरु के येलहांका एयर फोर्स स्टेशन में 5 दिन चलने वाले एयरो इंडिया 2023 कार्यक्रम की शुरुवात सोमवार को हुई। इस अवसर पर हिंदुस्तान लीड-इन फाइटर ट्रेनर (HLFT-42) विमान के फाइटर जेट के मॉडल को लॉन्च किया गया था, जिसके टेल पर भगवान हनुमान की तस्वीर लगी हुई थी। यह मॉडल सबसे ज्यादा सुर्खियों में था। इसकी टेल पर हनुमानजी की फोटो थी। साथ ही एक मैसेज भी लिखा था- The Storm Is Coming (तूफान आ रहा है)। इसे देश के पहले स्वदेशी एयरक्राफ्ट मारुत का उत्तराधिकारी बताया जा रहा है।

एएनआई से बात करते हुए, एचएएल (HAL) के सीएमडी ने कहा, ‘यह किसी इरादे से नहीं किया था और ना ही इसे हटाने के पीछे कोई इरादा है। यह सब अनजाने में हुआ।’ वहीं HAL के डायरेक्टर डॉ. डीके सुनील ने कहा कि ‘स्टिकर हटाने का फैसला इंटरनल है।’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को बेंगलुरु के येलहंका में एशिया के सबसे बड़े एयरो शो – एयरो इंडिया 2023 के 14वें संस्करण का उद्घाटन किया था।

सोमवार को इस कार्यक्रम में बोलते हुए, राज्य के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने कहा कि राज्य अर्थव्यवस्था, सामाजिक व्यवस्था और रक्षा क्षेत्र में अपने तरीके से योगदान देगा।

उन्होंने कहा, ‘यह एयरशो अपने आकार, प्रदर्शनी और कार्यशैली के कारण अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सबसे बड़ा आयोजन रहा है. इसके जरिए भारत ने रक्षा क्षेत्र में अपनी ताकत का प्रदर्शन किया है।’

एचएलएफटी-42 में क्या है खास?

हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (HAL) द्वारा निर्मित एचएलएफटी-42 विमान अगली पीढ़ी का सुपरसोनिक ट्रेनर है। ये आधुनिक लड़ाकू विमान प्रशिक्षण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा। यह विमान फ्लाई बाय वायर कंट्रोल सिस्टम के साथ एक्टिव इलेक्ट्रॉनिकली स्कैन्ड एरे, इलेक्ट्रॉनिक वारफेयर सूट, इन्फ्रारेड सर्च एंड ट्रैक जैसे अत्याधुनिक एवियोनिक्स से लैस है।

एग्जिबिटर ने कहा, “इस विमान को एक ट्रेनर के रूप में शामिल करने का विचार है, जिसमें आधुनिक तकनीकि के साथ कई अहम सुविधाएं हैं। जैसे हवा से हवा में ईंधन भरने, क्रूज मिसाइलों को फायर करने की ट्रेनिंग देने में सक्षम होगा। यह विमान एक हाई सुपरसोनिक और अधिक तेज गति से चलने वाला हवाई जहाज होगा। यह एयरक्राफ्ट ट्रेनी अधिकारियों को टाइम के साथ बदलने वाले समय के लिए तैयार करेगा।”

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments

error: Content is protected !!