Monday, June 24, 2024
Homeखेलकेंद्रीय खेल मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने फिट इंडिया क्विज़ 2022 स्टेट...
spot_img

केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने फिट इंडिया क्विज़ 2022 स्टेट राउंड के विजेताओं को सम्मानित किया। पुरस्कार राशि के रूप में 2 करोड़ रुपये से अधिक दिए

केंद्रीय युवा मामले, खेल और सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने रविवार को 36 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के 72 स्कूली छात्रों को फिट इंडिया क्विज़ स्टेट राउंड के दूसरे एपिसोड में उनकी सफलता पर सम्मानित किया।

यह सम्मान मुंबई में एक कार्यक्रम में दिया गया। 72 छात्र अपने-अपने राज्य में टॉप स्थान हासिल करने वाले हैं और अब फिट इंडिया क्विज़ के राष्ट्रीय दौर में प्रतिस्पर्धा करेंगे जो स्टार स्पोर्ट्स और डिजनी हॉटस्टार पर प्रसारित किया जाएगा।

प्रत्येक राज्य/केंद्र शासित प्रदेश के विजेता स्कूल को कुल 2.5 लाख रुपये की पुरस्कार राशि मिली, जबकि स्कूल के 2 छात्रों की टीम को कुल 25,000 रुपये का पुरस्कार दिया गया। राज्य प्रथम रनर-अप स्कूल को 1 लाख रुपये और छात्रों को कुल 10,000 रुपये की पुरस्कार राशि मिली। इसी प्रकार, स्टेट सेकेंड रनर-अप स्कूल को 50,000 रुपये का नकद पुरस्कार मिला और भाग लेने वाले छात्रों को कुल 5,000 रुपये का पुरस्कार मिला।

अनुराग सिंह ठाकुर ने रविवार को कहा, “माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के शासन में आने के बाद से पिछले 9 वर्षों में भारत में स्पोर्ट्स इकोसिस्टम कई गुना बदल चुका है। यह हमारी रिकॉर्ड पदक तालिकाओं में दिखाई दे रहा है, चाहे वह ओलंपिक हो, पैरालिंपिक हो या राष्ट्रमंडल खेल हो। मेरा मानना है कि हम इस सितंबर में एशियाई खेलों में सर्वोच्च पदक भी हासिल करेंगे। ”

फिजिकल फिटनेस की आवश्यकता का उल्लेख करते हुए मंत्री ने कहा, “भारत में हर गुजरते दिन मोटापे और हार्ट संबंधी बीमारियों के मामलों में काफी वृद्धि हुई है। युवाओं में भी स्क्रीन टाइम बढ़ रहा है। इसका एकमात्र समाधान खेल के मैदान में जाना है।’ अब फिट इंडिया क्विज़ का उद्देश्य फिटनेस का संदेश देना और स्कूली छात्रों को भारत के खेल इतिहास से अवगत कराना है। राष्ट्रीय शिक्षा नीति को ध्यान में रखते हुए, हम खेल को स्कूल में मुख्य पाठ्यक्रम का हिस्सा बनाने के लिए यथासंभव प्रयास कर रहे हैं। यह अब केवल को-करिकुलर एक्टिविटी नहीं रह गई है। विभिन्न मंचों पर शिक्षा और खेल को एक साथ जोड़ा जा रहा है।”

राज्य/केंद्रशासित प्रदेश दौर के लिए कुल 348 स्कूलों और 418 छात्रों का चयन किया गया था। इन छात्रों में 39% छात्राएं थीं। चयनित स्कूलों ने दो छात्रों की एक टीम बनाई, जिन्होंने वेब राउंड की एक सीरीज के जरिये राज्य/केंद्र शासित प्रदेश चैंपियनशिप के लिए प्रतिस्पर्धा की। 36 राज्य/केंद्रशासित प्रदेश चैंपियनों की पहचान के लिए कुल 120 राउंड आयोजित किए गए। राज्य/केंद्रशासित प्रदेश चैंपियन के रूप में पहचाने गए 36 स्कूलों में से 12 सरकारी स्कूल हैं।

स्कूलों के लिए फिट इंडिया नेशनल फिटनेस एंड स्पोर्ट्स क्विज़ का दूसरा संस्करण पिछले साल 29 अगस्त को राष्ट्रीय खेल दिवस की पूर्व संध्या पर अनुराग सिंह ठाकुर और राज्य मंत्री, युवा मामले और खेल और गृह मंत्रालय निसिथ प्रमाणिक द्वारा केंद्रीय शिक्षा और कौशल विकास और उद्यमिता मंत्री धर्मेंद्र प्रधान की उपस्थिति में शुभारंभ किया गया था।

फिट इंडिया क्विज़ के पहले संस्करण की सफलता के बाद, दूसरे संस्करण को बड़े पैमाने पर प्रतिक्रिया मिली। क्विज़ के दूसरे संस्करण में भारत के 702 जिलों के 16,702 स्कूलों के 61,981 छात्रों की भारी भागीदारी देखी गई है। इसकी तुलना में, फिट इंडिया क्विज़ के पहले संस्करण में 13,502 स्कूलों के कुल 36,299 छात्रों ने भाग लिया। पहले संस्करण की तुलना में क्विज़ के दूसरे संस्करण में भाग लेने वाले छात्रों की संख्या में 70% की बढ़ोतरी देखने को मिली।

इतनी बड़ी भागीदारी की बात करते हुए अनुराग ठाकुर ने कहा, “प्रश्नोत्तरी के माध्यम से एक भारत, श्रेष्ठ भारत के दृष्टिकोण को हर माध्यम से बरकरार रखा जा रहा है। देश के विभिन्न हिस्सों से बहुत सारे छात्र हैं – चाहे वह अंडमान और निकोबार, कारगिल, लक्षद्वीप और अन्य हिस्से हो। इससे सभी छात्रों को अपने संपर्क बनाने का शानदार मौका मिलता है और यह भी सुनिश्चित होता है कि उनके बीच भरपूर सांस्कृतिक आदान-प्रदान हो रहा है।”

फिट इंडिया क्विज़ स्कूल जाने वाले बच्चों के लिए खेल और फिटनेस पर भारत की सबसे बड़ी क्विज़ है। स्कूली बच्चों के बीच फिट इंडिया के संदेश को प्रचारित करने और स्कूलों में इसकी उपस्थिति को मजबूत करने के उद्देश्य से 2020 में क्विज़ का शुभारंभ किया गया था। क्विज़ में कुल ₹ 3.25 करोड़ के नकद पुरस्कार स्कूल और छात्रों को प्रदान किए जाते है। यह देश के हर कोने से छात्रों को खेल और फिटनेस में अपने ज्ञान का प्रदर्शन करने और राष्ट्रीय स्तर पर एक मंच प्रदान करता है।

राष्ट्रीय दौर के बाद विजेता स्कूल को कुल 25 लाख रुपये की पुरस्कार राशि मिलेगी, जबकि प्रथम उपविजेता और दूसरे उपविजेता स्कूल को क्रमशः 15 लाख रुपये और 10 लाख रुपये मिलेंगे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments

error: Content is protected !!